क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में जानें – Credit Card Kya Hota Hai

Credit Card Kya Hota Hai– नमस्ते दोस्तों, हम जब भी ऑनलाइन खरीदी करते हैं तो हमें क्रेडिट कार्ड पर डिस्काउंट या अन्य ऑफर दिए जाते हैं लेकिन कई लोगो को यह नहीं पता रहता की Credit Card Kya Hota Hai अगर आप भी जानना चाहते हैं Credit Card Kya Hota Hai तो आइये आज हम इस ब्लॉग पोस्ट के जरिए आपके सवाल “क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में बताये” का जवाब लेकर आ चुके हैं।

मैं Credit Card लगभग तीन साल से इस्तेमाल कर रहा हूँ और मैंने कई क्रेडिट कार्ड के बारे में समझा है जो मैं आपको बताने वाला हूँ और साथ ही साथ मैं आपको यह भी बताऊंगा आपको क्रेडिट कार्ड लेना चाहिए या नहीं, अगर लेना चाहिए तो कोनसा और किस बैंक से लेना चाहिए, सबसे पहले तो आइये जानते हैं credit card kya hota hai.

क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में बताये

दोस्तों, क्रेडिट कार्ड बैंक द्वारा जारी किया गया एक प्लास्टिक मनी कार्ड होता है जो शारीरिक रूप से बिल्कुल डेबिट कार्ड यानि ATM card की तरह होता है लेकिन इन दोनों में कई अंतर होते हैं जैसे डेबिट कार्ड से आप केवल उतना ही पैसा निकाल सकते हैं जितना आपके बैंक खाते में उपलब्ध है।

लेकिन Credit Card के साथ ऐसा नहीं है जब बैंक आपका क्रेडिट कार्ड जारी कर रहा है तो बैंक आपके सिबिल स्कोर की जांच करेगा और बैंक खाता व्यवहार की जांच करेगा और अगर आपका सिविल स्कोर अच्छा है और बैंक खाते का व्यवहार भी अच्छा है मतलब बैंक में अच्छा ट्रांजैक्शन होता है, बैलेंस अच्छा रहता है तो उसके अनुसार बैंक आपकी क्रेडिट लिमिट तय करेगा और जो भी क्रेडिट लिमिट तय होगी उतनी राशि आप अपने क्रेडिट जब चाहे इस्तेमाल कर सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में बताये
क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में बताये

Credit Card एक प्री एप्रूव्ड लोन (Pre Approved Loan) की तरह होता है इसका मतलब अगर आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट 50000 रुपए है तो आप अपने क्रेडिट कार्ड से 50000 रुपए जब चाहे तब ले सकते हैं लोन के रूप में इस लोन को लेने के लिए आपको बार बार बैंक जाने की जरूरत नहीं होती केवल एक बार ही क्रेडिट कार्ड बनवाना परता है उसके बार्ड आप बार बार इससे लोन ले सकते हैं।

तो आइये अब जानते हैं Credit Card और Debit Card के बीच में क्या अंतर है आशा है यह जान्ने के बाद आपके सवाल “क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में बताये” और Credit Card Kya Hota Hai का जवाब आपको मिल जायेगा।

क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड में क्या अंतर है

Credit Card में बैंक द्वारा तय की गई क्रेडिट सीमा को आप किसी भी स्टोर मे स्वाइप करके या ऑनलाइन खरीदी करके उपयोग कर सकते हैं लेकिन आप क्रेडिट कार्ड के साथ जितनी भी राशि का उपयोग करते हैं वह सभी पैसे आपको अधिकतम 50 दिनों के अन्दर क्रेडिट कार्ड वलो को वापस करना होगा क्योंकि यह क्रेडिट सीमा एक ऋण की तरह होती है जो कि पहले से आपके क्रेडिट कार्ड पर स्वीकृत किया हुआ रेह्ता है ताकि आप जब तक चाहें क्रेडिट सीमा की राशि का उपयोग कर सकें।

Debit Card यदि हम डेबिट कार्ड के बारे में बात करते हैं तो आपके द्वारा डेबिट कार्ड के साथ उपयोग किए जाने वाले पैसे को लौटने की आवश्यकता नहीं है क्योकी डेबिट कार्ड से आप जित्ना पैसा इस्तेमाल करते हैं वह पैसा आपके बैंक खाते से डेबिट हो जाता है जोकि बैंक खाते में आपके पास पैसा होता है इस्लिये खर्च करने पर उस पैसे को वापस नहीं करना पड़ता है

तो क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड के बीच यह बहुत बड़ा अंतर है।

credit card kya hota hai – क्रेडिट कार्ड कैसे बन्वते है

दोस्तों सब्से पेह्ले हमे यह जान लेना चाहिए कि क्रेडिट कार्ड अधिक्तम दो प्रकार के होते है

  1. सुरक्षित क्रेडिट कार्ड (Secured Credit Card)
  2. असुरक्षित क्रेडिट कार्ड (Unsecured Credit Card)

Note– आगे बढ़ने से पहले मैं आपको यह बता देना चाहता हूँ की सुरक्षित क्रेडिट कार्ड और असुरक्षित क्रेडिट कार्ड दोनों में सो कोई भी बुरा नहीं है इसमें आपकी सुरक्षा की बात नहीं की जा रही है, आप दोनों के बारे में आगे पढ़े तो आपको आसानी से समझ आ जायेगा।

सुरक्षित क्रेडिट कार्ड

सुरक्षित क्रेडिट कार्ड को क्रेडिट कार्ड कहा जाता है जिसे बनवाने के लिए हमें किसी भी संपत्ति या मूल्यवान चीज को बैंक के पस रख्ना होगा बैंक उस मूल्यवान चीजों का मूल्य तय करता है और जो भी उसका कुल मूल्य आता है उसकी राशि के 80% तक की क्रेडिट सीमा के साथ आप क्रेडिट कार्ड बनवा सकते हैं यदि आप इस तरह से क्रेडिट कार्ड बनवाते हैं तो वैसे क्रेडिट कार्ड को Secured Credit Card या सुरक्षित क्रेडिट कार्ड कहा जाता है।

यह भी पढ़ें:-
play store ki id kaise banaye
referral code meaning in hindi
affiliate marketing kya hai

सुरक्षित क्रेडिट कार्ड किसी भी ग्राहक के लिए बनाया जा सकता है, चाहे उसका Cibil Score अच्छा हो या नहीं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि बैंकों का कोई जोखिम नहीं है अगर आप इसके पैसे का उपयोग करके भी भुगतान नहीं करते हैं, तो भी कोई बात नहीं है क्योंकि अभी भी बैंक के पास उपयोग की गई राशि से 20% अधिक बचा हुआ है, तो इस तरह से बैंकों को 20% का लाभ होता है इसलिए बैंक किसी को भी सुरक्षित क्रेडिट कार्ड दे देते हैं।

असुरक्षित क्रेडिट कार्ड

तो अब मामला असुरक्षित क्रेडिट कार्ड का आता है एक असुरक्षित क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए, आपको किसी संपत्ति या मूल्यवान चीजों को बैंक के पास रखने की आवश्यकता नहीं है। बैंक आपको आपके Cibil Score के आधार पर क्रेडिट कार्ड प्रदान करता है या आपके बैंक खाते के लेन-देन और शेष राशि के आधार पर, यदि आपके पास वेतन खाता है तो आप बहुत आसानी से क्रेडिट कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।

ऊपर दिए गए आधार पर अगर आप क्रेडिट कार्ड बनवाते हैं तो वह असुरक्षित क्रेडिट कार्ड या Unsecured Credit Card कहलाता है ये क्रेडिट कार्ड ज्यादातर जॉब करने वाले लोगो को मिलता है क्योंकि उनके बैंक अकाउंट में मासिक वेतन आता है जिससे भुगतान आराम से किया जा सकता है।

सुरक्षित क्रेडिट कार्ड कैसे बन्वाए

सुरक्षित क्रेडिट कार्ड को कैसे बन्वाए– तो दोस्तों सुरक्षित क्रेडिट कार्ड बनवाने का सबसे आसान तरीका यह है जिस भी बैंक में अपना बैंक खाता हो आपको उस बैंक में जाना है और अपने बैंक खाते के आधार पर कुछ पैसे फिक्स डिपॉजिट करने होंगे जब आप एक फिक्स डिपॉजिट करते हैं तो बैंक आपको आपके Fix Deposit की रसीद देता है उस रसीद की फोटोकॉपी कराकर आपको अपने पास रख लेना है यह आपको आगे काम आने वाली है।

उसके बाद सभी बैंकों में एक क्रेडिट कार्ड बेचने वाला कर्मचारी होता है जो आपको Credit Card के बारे में सारी जानकारी दे देगा, तो आपको उससे सभी क्रेडिट कार्ड की स्कीम के बारे में समझ लेना है और चयन कर लेना है की आपको कोनसा क्रेडिट कार्ड लेना चाहिए। दोस्तों हर बैंक के पास लगभग 20 से 25 Credit Card होते हैं सभी में अलग-अलग ऑफ़र, अलग-अलग शर्तें होती हैं।

चयन कर लेने के बाद आप वहां से फॉर्म लें क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करें फॉर्म भरने के बाद आपके पास फिक्स्ड डिपॉजिट की फोटोकॉपी है उसे आप उस फॉर्म के साथ लगा देते है और फिर फॉर्म जमा कर दें, फॉर्म जमा करने से आपका आवेदन पूरा हो जाएगा उसके बाद आपको 1-2 दिन इंतजार करना होगा।

फिर बैंक आपके क्रेडिट कार्ड को मंजूरी देगा और आपके एप्लीकेशन को प्रोसेसिंग के लिए भेज देगा फिर प्रोसेसिंग करने वाला व्यक्ति आपको आपके पंजीकृत नंबर पर कॉल करेगा और आपका पता और व्यक्तिगत पता का विवरण करेगा कुछ वेरीफिकेशन के बाद 20-25 दिनों के अंदर आपके पास आपका क्रेडिट कार्ड पोस्त ओफ़िस द्वरा पहुंचा दिया जायेगा।

उसके 1-2 दिन बाद आपके पास एक दूसरे लिफाफे में आपका क्रेडिट कार्ड पिन पहुच जाएगा, ठीक उसी तरह जब आप डेबिट कार्ड से पैसे निकालते हैं आपको पिन की जरूरत होती है, इसी तरह अगर आप क्रेडिट कार्ड से कैश लेना चाहते हैं तो उसके लिए भी आपको एक पिन की जरूरत होगी जो पिन आपको इस लिफाफे में दिखाई देगी तो इन दोनों लिफाफों को अपने पास रख लें और उसके बाद आपको क्रेडिट के साथ बैंक जाना होगा और वहा से आपको क्रेडिट कार्ड कस्टमर केयर नम्बर लेना होगा।

अगर आप बैंक नहीं जाना चाहते हैं तो आपको क्रेडिट कार्ड के पीछे एक नंबर मिलेगा आपको अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से उस नंबर पर कॉल करना होगा जब आप कॉल करेंगे तो आपसे कुछ व्यक्तिगत विवरण मांगे जाएंगे और यदि आप विवरण सही ढंग से भरते हैं तो आपका क्रेडिट कार्ड एक से दो दिनों के भीतर स्वीकृत हो जाएगा। उसके बाद, आप कहीं भी अपने क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर सकते हैं।

credit card kya hota hai

असुरक्षित क्रेडिट कार्ड कैसे बन्वाए

असुरक्षित क्रेडिट कार्ड कैसे बन्वाए– सबसे पहले मैं आपको उन लोगो के बारे में बता दूं जो एक असुरक्षित क्रेडिट कार्ड बनवा सकते हैं, वो लोग जिनके पास चलू खाता है और उनके पास अच्छा बैंक लेनदेन है अन्यथा एक बचत खाता है अच्छे लेनदेन के साथ और यदि आप जॉब करते हैं तो आपको Unsecured Credit Card मिल सकता है।

असुरक्षित क्रेडिट कार्ड आपके क्रेडिट स्कोर पर मिलता है जिसे सिविल स्कोर भी कहा जाता है अगर आपका सिबिल स्कोर अच्छा है तो आपको असुरक्षित क्रेडिट कार्ड आसानी से मिल जाएगा और ज्यादा अमाउंट का भी मिल सकता है लेकिन अगर आपका सिविल स्कोर अच्छा नहीं है तो आप को यह क्रेडिट कार्ड लेने में दिक्कत जा सकती है हो सकता है आपको ज्यादा इंटरेस्ट भी देना पड़े क्योंकि अगर आपका सिविल स्कोर अच्छा नहीं होगा तो आपको लोन तो मिल जाएगा लेकिन ज्यादा इंटरेस्ट लगेगा।

कई लोगों यह भी पूछते हैं कि अच्छा सिविल स्कोर कैसा होता है तो मैं उन्हें बता दूं सिविल इसको 300 से 900 के बीच में रहता है अगर आपका सिविल स्कोर 700 से ज्यादा है तो यह अच्छा माना जाता है लेकिन अगर 700 से कम है तो यह अच्छा नहीं माना जाता सिविल स्कोर घटता तब है जब आप लोन लेते हैं और उसे सही समय पर नहीं झुकाते हैं।

इसकी कम होने के और भी कई कारण हो सकते हैं जैसे अगर आपके पास क्रेडिट कार्ड है और आप अपने क्रेडिट कार्ड का ज्यादातर पैसा इस्तेमाल कर लेते हैं मतलब अगर आपका क्रेडिट कार्ड ₹50000 का है और आप हर महीने उससे ₹50000 निकाल लेते हैं तो आपका सिविल इसको कम होगा भले ही आप उसे सही टाइम पर चुका रहे हो क्योंकि आप निर्धारित की गई राशि का पूरा उपयोग कर रहे हैं।

FAQ’s – क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में बताये

क्रेडिट कार्ड कैसे होता है?

क्रेडिट कार्ड बैंक द्वारा आप को दिया गया एक फ्री अप्रूव्ड लोन रहता है जिसमें आपको बार-बार लोन लेने के लिए बैंक नहीं जाना पड़ता आप सीधे अपने क्रेडिट कार्ड से पैसे निकाल सकते हैं क्योंकि आपके पास पहले से अप्रूवल दे दिया जाता है नियमित राशि का जितना भी आपके क्रेडिट कार्ड में राशि दी गई हो।

क्रेडिट कार्ड के लिए सैलरी कितनी होनी चाहिए?

क्रेडिट कार्ड के लिए कोई निर्धारित सैलरी नहीं होती है अगर आप असुरक्षित क्रेडिट कार्ड ले रहे हैं तो उसके लिए आपके पास जॉब होना जरूरी रहता है और अगर बैंक के पास आपकी सैलरी के बराबर कोई ऑफर होता है तो वह आपको क्रेडिट कार्ड जरूर दे देंगे और यदि आप सुरक्षित क्रेडिट कार्ड लेना चाहते हैं तो आप बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट कर सकते हैं और उस फिक्स डिपाजिट के ऊपर एक क्रेडिट कार्ड ले सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड का हिंदी अर्थ क्या होता है?

क्रेडिट कार्ड का हिंदी अर्थ होता है प्री अप्रूव्ड ऋण इसे प्रिय अप्रूव्ड इसलिए कहते हैं क्योंकि इसका अप्रूवल आपको पहले से दे दिया जाता है फिर आप जब चाय अपने क्रेडिट कार्ड से पैसे निकाल सकते हैं वह एक लोन की तरह होता है उसे आप नियमित समय पर लौटा भी सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड के क्या नुकसान है?

क्रेडिट कार्ड के कई नुकसान भी होते हैं जैसे कि

1. यदि आप क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल की गई राशि को सही समय पर नहीं लौट आते हैं तो आपका सिविल इसको खराब हो सकता है।

2. क्रेडिट कार्ड के कारण कई लोग ज्यादा खर्च कर लेते हैं और ऐसा करने से आपकी आथिक स्तिथि खराब हो सकती है।

3. यदि आप किसी क्रेडिट कार्ड का बिल भरना भूल जाते हैं तो आपको भारी ब्याज देना पड़ सकता है।

4. कई बार क्रेडिट कार्ड कंपनियां आपसे हिडेन चार्जेस जैसी चीजें छिपा लेती हैं और इस कारण आपको नुकसान हो सकता है।

निष्कर्ष – Credit Card Kya Hota Hai

तो दोस्तों उम्मीद है अब तक आपको आपके सवाल क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में बताये का जबाब मिल गे होगा यदि आपको समझ आ गया है की Credit Card Kya Hota Hai तो आप हमारे ब्लॉग को जरूर फॉलो करें और यदि आपको अब भी आपके सवाल क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में बताये का जबाब नहीं मिला है तो आप दिए गए वीडियो को देख लीजिये।

Tags:- क्रेडिट कार्ड क्या होता है हिंदी में बताये, Credit Card Kya Hota Hai

Leave a Comment