Mutual Fund क्या है और इसमें Invest कैसे करें – पूरी जानकारी [2022]

Mutual Fund Kya Hai– नमस्कार दोस्तों, आज के ब्लॉग पोस्ट में हम जानने वाले हैं mutual fund kya hai in hindi क्यूंकि हम में से काफी लोग अपने पैसे को निवेश करना चाहते हैं लेकिन उन्हें निवेश के बदले में अच्छा मुनाफा चाहिए जो फिक्स्ड डिपॉइट में नहीं मिलता इसीलिए आज के पोस्ट में मैं आपको बताने वाला हूँ mutual fund kya hota hai मैंने बहुत ही आसान भाषा में mutual fund की पूरी जानकारी देने की कोशिस की है तो आप इस आर्टिकल को धैर्य से पढ़ियेगा।

आइए सबसे पहले समझते हैं पैसों को में निवेश क्यों करना चाहिए।

पैसे निवेश क्यों करें

मान लीजिए आप पैसों की बचत करते हैं लेकिन आप उन्हें कहीं निवेश ना करके अपने पास इकट्ठा करते रहते हैं तो आपको यह जानकर हैरानी होगी कि आपके पैसे की कीमत 4% से 5% हर साल घटती रहेगी।

इस उदाहरण को आप कुछ इस तरह से समझ सकते हैं कि 1 साल पहले अगर कोई बिस्किट का पैकेट ₹3 में मिल जाता था तो आज वही एक पैकेट बिस्किट आपको ₹5 में मिल रहा है यानी कि आपके ₹3 ने अपनी कीमत ₹2 घटा दी है इसलिए आपको अगले साल वही एक पैकेट बिस्किट खरीदने के लिए ₹2 ज्यादा देने पड़ रहे हैं।

mutual fund kya hai
Mutual Fund Kya Hai

रखे हुए पैसे अपनी कीमत ना गवाएं इसलिए काफी लोग उन्हें इन्वेस्ट भी कर देते हैं हमारे देश में ज्यादातर लोग अधिकतर चार जगह पर इन्वेस्ट करते हैं जैसे-

  • सेविंग्स अकाउंट (Saving Account)
  • म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Funds)
  • फिक्स डिपॉजिट FD (Fixed Deposit)
  • सोना या फिर आभूषण
  • रियल स्टेट यानी जमीन या घर खरीदना
  • स्टॉक मार्केट (Stock Market)

तो चलिए अब हम समझते हैं म्यूच्यूअल फण्ड क्या है (Mutual Fund Kya Hai) हिंदी में।

म्यूच्यूअल फण्ड क्या है (Mutual Fund Hota Hai)

Mutual funds एक अलग तरह का निवेश होता है जिसके द्वारा आप सारी अलग-अलग तरह की निवेश साथ में कर सकते हैं, डायवर्सिफाई निवेश कर सकते हैं वह भी सिर्फ एक जगह निवेश करके जिस कारण आपको घाटा होने की संभावना काफी कम हो जाती है।

यह भी पढ़ें-
Play store ki id kaise banaye
Blog Kaise Banaye
Laki ka Photo

Asset management company (AMC) वह कंपनी होती है जो Mutual Fund म्यूच्यूअल फंड खोलती है तो वास्तविक तौर में अगर आप Mutual Fund म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं तो आप अपना पैसा ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी को दे देते हैं और आप जैसे काफी सारे लोग अपना पैसा ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी के पास डालते हैं, तो यह सारा पैसा कंपनी अलग-अलग जगह निवेश करती है।

जब यह कंपनी आपका पैसा अलग-अलग जगह निवेश कर देती है तो निवेश करने के बाद जो भी रिटर्न कंपनी को मिलते हैं उस रिटर्न में से कुछ परसेंट कंपनी खुद के पास रख लेती है क्योंकि कंपनी में भी काफी ऑफिशियल रहते हैं जिन्हें सैलरी देनी होती है और फिर आपको बचा हुआ पैसा रिटर्न कर दिया जाता है आपके मुनाफे के साथ।

कंपनी रिटर्ंस में से काफी कम पैसा रखती है जो कि लगभग 1% – 2% ही होता है बाकी पैसा आप लोगों को वापस मिल जाता है। अच्छे रिटर्न रेट के हिसाब से भारत में भी ऐसी काफी दिग्गज कंपनियां हैं जो कि 25% से 26% तक का रिटर्न दे देती है म्यूच्यूअल फंड्स में निवेश करने पर।

HDFC, HSBC, ICICI, ADITYA BIRLA, TATA ये कुछ Mutual Fund म्यूचल फंड कंपनियों और बैंकों के उदाहरण है।

Mutual Fund में निवेश से पहले हमें अधिकतर तीन चीजें जरूर देखनी चाहिए जो हैं-

  1. रिटर्न
  2. रिस्क
  3. वक्त

Mutual Funds – रिटर्न क्या है?

रिटर्न यानी कि कितने प्रतिशत आप अपने पैसों पर रिटर्न ले रहे हैं आपको निवेश करने से पहले यह जरूर याद रखना चाहिए कि आपका रिटर्न 4% – 5% से ऊपर हो क्योंकि पैसे हर साल लगभग 4% – 5% अपनी कीमत घटा देते हैं इसलिए आपको इस चीज का जरूर ध्यान रखना चाहिए अगर रिटर्न 4 परसेंट से कम है तो आपके निवेश का कोई फायदा ही नहीं होगा।

Mutual Funds – रिस्क क्या है?

रिस्क यानी कि आप अपने पैसे को कही भी निवेश कर रहे हैं वहां पर आपके पैसे खतम हो जाने की संभावना कितनी है अगर इसमें पैसे खत्म होने की संभावना ज्यादा रहती है और वक्त भी ज्यादा लग रहा है तो आपका रिटर्न भी अच्छा होना चाहिए अगर आपका रिटर्न अच्छा नहीं है तो आपको वहां पर निवेश नहीं करना चाहिए।

Mutual Funds – वक्त क्या है?

वक्त यानी कि आपको कितना समय लग रहा है पैसे को बढ़ाने में अगर वह वक्त ज्यादा लग रहा है और उस हिसाब से आपको रिटर्न नहीं मिल रही है तो आपको वहां पर निवेश बिल्कुल नहीं करना चाहिए।

Types of Mutual Funds – म्यूच्यूअल फंड्स के प्रकार

AMC ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी में बैठे हुए एक्सपर्ट्स आपके पैसे को कहां निवेश कर रहे हैं इसके आधार में काफी सारे म्यूच्यूअल फंड्स हो सकते हैं ऊपर – ऊपर से देखा जाए तो 3 श्रेणियों में इन सब को बांटा जाता है।

  1. Equity Mutual Fund
  2. Debt Mutual Fund
  3. Hybrid Mutual Fund

इक्विटी म्यूचुअल फंड्स (Equity Mutual Fund)

Equity Mutual Fund वह होते हैं जिनमें आपका पैसा स्टॉक मार्केट में निवेश किया जाता है तो जाहिर सी बात है इस श्रेणी के म्यूच्यूअल फंड्स में रिस्क ज्यादा होता है और रिटर्न भी काफी ज्यादा होता है, इस तरह की म्यूचल फंड में इन्वेस्ट करने से काफी जल्दी फायदा होता है लेकिन आपके पैसे कम भी उतनी ही जल्दी होंगे अगर आप लंबे समय के लिए इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो आप यहां पर इन्वेस्ट कर सकते हैं क्योंकि लंबे समय तक यहां पर इन्वेस्ट करने में काफी ज्यादा फायदा होता है।

इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड को तीन टुकड़ों में बांटा गया है।

  1. Small Cap Mutual Fund
  2. Mid Cap Mutual Fund
  3. Large Cap Mutual Fund

Small Cap Mutual Fund

Small Cap Mutual Fund में आपके पैसे से छोटी छोटी कंपनियों के स्टॉक ख़रीदे जाते हैं क्योंकि नई कम्पनयों के स्टॉक सस्ते होते है और कमपनी अभी अच्छे तरीके से मार्किट में नहीं है, जब कंपनी मार्किट में सही से आ जाएगी तो उसके शेयर काफी तेजी से बढ़ेंगे और आपके पैसे भी शेयर के साथ ही बढ़ेंगे।

mutual fund kya hai
Mutual Fund Kya Hai

मगर इनसे म्यूच्यूअल फंड्स में निवेश करना काफी जोखिम से भरा हैं क्यूंकि नई कंपनी हो सकता है सही से काम न कर पाए और कंपनी के साथ साथ आपका पैसा भी डूब जाये इस कारन से Small Cap Mutual Fund में निवेश करना सही नहीं है यदि आपके पास कुछ पैसा ऐंसा है जिसपर आप जोखिम ले सकते हैं और उस पैसे के डूब जाने पर भी आपको परेशानी नहीं होगी तो आप ऐसे mutual fund में निवेश कर सकते हैं।

Mid Cap Mutual Fund

Mid Cap Mutual Fund में आपके पैसों को एनसी कंपनियों में निवेश किया जाता है जो ज्यादा बड़ी भी न हों और न ही ज्यादा छोटी ताकि आपका पैसा जल्दी बढ़ भी सके और ज्यादा रिस्क भी न हो।

इनसे म्यूच्यूअल फंड्स से रिस्क मध्यम होता है और ज्यादा फायदा होने की आशंका रहती है आपको भी इसी प्रकार के म्यूच्यूअल फण्ड में पैसे लगाने चाहिए ताकि आपको अपने पैसों पर ज्यादा जोखिम न उठाना पड़े और आपका पैसा भी जल्द से जल्द दोगुना हो जाये।

Large Cap Mutual Fund

Large Cap Mutual Fund वह फंड्स होते हैं जिनमे बड़ी कंपनियों में निवेश किया जाता है या म्यूच्यूअल फण्ड पहले बताये गए म्यूच्यूअल फंड्स से काफी सुरक्षित है क्यूंकि बड़ी कंपनियां पहले से मार्केट में हैं और चल भी रही हैं जिस कारन से उनके स्टॉक खरीदने पर फायदा होने की सम्भावना काफी ज्यादा रहती है।

ज्यादातर लोग इसी तरह के mutual funds में निवेश करना पसंद करते हैं क्यूंकि ये बांकी म्यूच्यूअल फंड्स से सुरक्षित हैं बस इसमें आपका पैसा धीरे धीरे बढ़ता है क्यूंकि जब कंपनी पहले से ही काफी बड़ी है तो उसे और बड़ा होने में समय लगता है और शेयर की कीमत बढ़ने में भी समय लगता है।

Debt Mutual Fund

Debt Mutual Fund में आपके पैसे को कई कंपनियों को इंस्टिट्यूशन को या गवर्नमेंट को लोन में दे दिया जाता है जिस पर वो लोग ब्या ज भी लेते हैं और ब्याज में से कुछ पैसे काट कर आपको दे दिए जाते हैं यहां पर आपका पैसा ज्यादातर लोन के रूप में दियाजाता है और जो ब्याज मिलता है उसे आपको फायदे के तौर पर दे दिया जाता है म्यूचुअल फंड इसमें कुछ पैसे कंपनी रख लेती है क्योंकि वह लोग आपके पैसों को इन्वेस्ट करते हैं और आपके पैसों से ब्याज कमा कर आपको देते हैं।

Debt mutual funds में Equity mutual funds के मुकाबले रिस्क थोड़ा कम रहता है क्योंकि आपके पैसे को यहां पर ज्यादातर लोन में दिया जाता है यदि स्टॉक में इन्वेस्ट किया जाता होता इक्विटी म्यूचुअल फंड की तरह तो यहां पर भी काफी ज्यादा रिस्क रहता।

लेकिन debt fund में इन्वेस्ट करने से पहले आपको यह याद रखना होगा कि यहां पर आपको रिटर्न भी कम मिलेगा मतलब की आपके पैसे दोगुने या तीनगुने लंबे समय पर होंगे वहीं अगर हम इक्विटी म्युचुअल फंड्स की बात करते हैं तो वहां पर यह मार्केट पर निर्भर करता है यदि मार्केट अच्छा चल रहा है तो हो सकता है आपके पैसे बहुत ही जल्दी 2 गुने या 3 गुने हो जाएं।

Hybrid Mutual Fund

Hybrid Mutual Fund एक तरीके का Mutual Fund ही है इस फण्ड में आपके पैसों को अलग अलग एसेट्स क्लास में निवेश किया जाता है, जब आप हाइब्रिड म्यूच्यूअल फण्ड में पैसा निवेश करते हैं तो आपका पैसा स्टॉक, बांड्स, गोल्ड और डेब्ट सभी में इन्वेस्ट किया जाता है।

यह म्यूच्यूअल फण्ड काफी ज्यादा सुरक्षित रहता है क्योंकि इसमें आपके पास हाइली डाइवर्सिफाइड पोर्टफोलिओ हो जाता है जिस कारन से आपको नुक्सान होने की सम्भावना बहुत काम हो जाती है और मार्केट में मंडी होने पर भी आपका पैसा बढ़ता रहता है। अगर आप म्यूच्यूअल फंड्स में सुरक्षित तरीके से निवेश करना चाहते हैं तो आप यह विकल्प चुन सकते हैं।

म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कैसे करें (Mutual Fund Kya Hai)

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए आपको बार-बार बैंक जाने की कोई जरूरत नहीं है आप यह घर बैठे कर सकते हैं इसके लिए केवल आपको एक ऐप इंस्टॉल करना होगा इसका नाम है Groww App आप यहां पर क्लिक करके भी इसे डाउनलोड कर सकते हैं और डाउनलोड कर लेने के बाद आपको यहां पर अकाउंट बनाना होगा अकाउंट बनाने के लिए मैंने वीडियो दिया हुआ है उस वीडियो को देख लीजिए।

mutual fund kya hai

अपना अकाउंट ओपन कर लेने के बाद आपको यहां पर काफी सारी म्यूचल फंड मिलेंगे जो कई कंपनियों के हैं जैसे SBI, ICICI और TATA आप किसी भी कंपनी के द्वारा म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट कर सकते हैं और यह बिलकुल सेफ है यहां पर आप लोगों को कोई भी फ्रॉड की दिक्कत नहीं होने वाली है मैं खुद Groww App को 1 साल से इस्तेमाल कर रहा हूं।

सिर्फ Mutual Funds में ही नहीं आप इस एप के द्वारा स्टॉक मार्केट पर और साथ ही साथ कोमोडिटी और बॉन्ड्स पर भी निवेश कर सकते हैं यह सब आप अपने मोबाइल से कर पाएंगे जो की बहुत ही अच्छी चीज है यहां पर आपको स्टॉक खरीदने और बेचने पर ज्यादा ब्रोकरेज चार्ज भी नहीं लगेगा और म्यूचुअल फंड में Groww App कोई भी ब्रोकरेज चार्ज नहीं लेता है।

Mutual Fund में कितना रिटर्न मिलता है

हर म्यूच्यूअल फंड्स में आपके पैसों को निवेश किया जाता है और आपके पैसों पर जो भी फायदा होता है उसे आपको दे दिया जाता है इस बीच 1% से 2% का कमीशन कंपनी फीस के रूप पर रख लेती है क्योंकि वही आपके पैसों को निवेश करते हैं। Mutual Funds में रिटर्न एफडी की तरह एक ही नहीं मिलता है यहां पर हो सकता है आपको काफी अच्छा रिटर्न मिली और हो सकता है आपको थोड़ा बेकार रिटर्न भी मिले।

जैसे मैंने रिसर्च की है तो मुझे पता चला है कि म्यूचल फंड में आपको कम से कम 4% का और ज्यादा से ज्यादा 30% का रिटर्न मिल जाता है मतलब आपको सेविंग अकाउंट से ज्यादा ही रिटर्न मिल रहा है अगर आप हाइब्रिड म्युचुअल फंड में निवेश करते हैं तो। क्योंकि यहां पर कभी-कभी मार्केट बहुत ज्यादा क्रैश हो जाता है और कभी-कभी अच्छा खासा बंप हो जाता है।

यह भी पढ़ें-
Online Ladkiyon Se Baat Karne Wala App
OYO meaning in hindi
Referral Code Meaning In Hindi

जब मार्केट बंप होता है तो आपको अच्छा खासा फायदा हो जाएगा लेकिन अगर मार्केट क्रैश करता है तो आप उस वक्त अगर अपने पैसे नहीं निकालते हैं तो आपके पैसे सुरक्षित रहेंगे और मार्केट सही हो जाने के बाद आपका पैसा भी बढ़ाना शुरू हो जाएगा फिर आप अपने पैसे को निकाल सकते है।

शेयर मार्केट और म्यूचुअल फंड दोनों में यदि आप धैर्य से काम करते हैं और सही समय पर निवेश करते हैं तो आपको बहुत ही ज्यादा फायदा हो सकता है आपको याद रखना है उसी समय पर निवेश करें जब मार्केट क्रैश हो क्योंकि उस समय पर आप को महंगे शेयर और म्युचुअल फंड सस्ते में मिल जाएंगे और जब मार्केट वापस बंप होगा तो आपके वही शेयर और म्यूचल फंड महंगी हो जाएंगे तब आप उन्हें बेंच सकते हैं।

किस तरह का निवेश सबसे अच्छा है

Savings Account में सबसे कम रिस्क है और वहां पर कोई टाइम रिस्ट्रिक्शन भी नहीं है यानी कि आप जब चाहे पैसे डाल सकते हैं और जब चाहे उन्हें निकाल भी सकते हैं लेकिन यहां पर आपको रिटर्न बहुत कम मिलता है ज्यादा से ज्यादा 4%

Fd Fixed Diposit भी एक काफी कम रिस्क वाला निवेश है लेकिन यहां पर आपको टाइम रिस्ट्रिक्शन रहता है यानी कि आप उस वक्त से पहले पैसे नहीं निकाल सकते यहां पर आपको रिटर्न भी काफी अच्छे देखने को मिल जाते हैं लगभग 7% – 8% आपको रिटर्न मिल जाता है फिक्स डिपॉजिट में

Gold & Jewelry सोने और जवाहरात पर निवेश करना आज के वक्त में जोखिम से भरा है क्योंकि सोने व चांदी का भाव काफी ज्यादा ऊपर नीचे होता रहता है अगर हम 10 साल पहले से सोने के भाव को देखते हैं तो यहां पर आपको कुछ समय पर तो सोना अच्छा रिटर्न देता हुआ देखेगा मतलब कि पहले सोने का भाव सिर्फ ऊपर की तरफ जाता रहा लेकिन आज के वख्त में यह काफी ज्यादा ऊपर नीचे हो रहा है जिस कारण से Gold & Jewelry सोने जवाहरात में निवेश करना जोखिम से भरा है

घर और प्रॉपर्टी में भी आज के वक्त में काफी ज्यादा रिस्क है क्योंकि मार्च 2011 में अगर हम देखे तो पहले प्रॉपर्टी में निवेश करने वालों को लगभग 30% तक का रिटर्न मिला था लेकिन अब हम मार्च 2018 की बात करें तो यह रिटर्न लगभग 5% ही बचा है यानी कि इसमें काफी ज्यादा उतार-चढ़ाव हो रहा है इसलिए प्रॉपर्टी में निवेश करना जोखिम से भरा है।

Note– एक काफी प्रचलित सलाह जो कि हर दिग्गज निवेशक देता है की आपको कभी भी किसी एक चीज में निवेश नहीं करना चाहिए ताकि आपको अगर नुकसान भी होता है तो कोई बड़ा नुकसान ना हो क्योंकि अगर आप अलग-अलग जगह निवेश करते हैं तो आपको बड़ा घाटा होने की संभावना तभी है जब आपने जिस भी चीज पर निवेश किया है हर चीज का भाव कम हो जाए और ऐसा होने की संभावना बहुत कम होती है इसलिए आपको अलग-अलग चीजों में निवेश करना चाहिए।

FAQs – Mutual Fund Kya Hota Hai

म्यूच्यूअल फण्ड क्या है हिंदी में?

म्यूचल फंड एक तरह का निवेश है जिस प्रकार आप बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट करते हैं उसी प्रकार कई लोग म्यूचुअल फंड में भी निवेश करते हैं इस निवेश में आपको फिक्स्ड डिपॉजिट से ज्यादा रिटर्न मिलता है लेकिन इसमें आपके पैसे घटने का भी रिस्क रहता है जबकि FD में ऐसा कोई भी रिश्ता नहीं रहता है।

म्यूचुअल फंड में आप बिना बैंक जाए भी निवेश कर सकते हैं और कम से कम निवेश ₹100 से शुरू कर सकते हैं यदि आप इसके बारे में अधिक जानकारी लेना चाहते हैं जैसे कि म्यूच्यूअल फंड क्या है और इस पर निवेश कैसे करें तो यह सब जानकारी मैंने इस पोस्ट में दी हुई है आप यहां पर विजिट कर सकते हैं।

म्यूचुअल फंड में कैसे निवेश करें?

म्यूचुअल फंड में निवेश करना बहुत ही आसान हो चुका है आप अपने मोबाइल से म्यूचल फंड में निवेश कर सकते हैं और ना केवल एक म्यूचल फंड में अलग-अलग कंपनियों की म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं और यह इन्वेस्टमेंट आप केवल ₹100 से शुरू कर सकते हैं और जितना चाहे उतनी रुपए का कर सकते हैं।

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए मैं Groww App का इस्तेमाल करता हूं क्योंकि यहां पर आपसे म्यूचुअल फंड में निवेश करने का कोई भी चार्ज नहीं लिया जाता है और साथ ही साथ यह एप सुरक्षित भी है यदि आप चाहे तो इस लिंक पर क्लिक करके काउंट बना सकते हैं।

म्यूचुअल फंड कितने प्रकार के होते हैं?

म्यूच्यूअल फंड तीन प्रकार के होते हैं-
Equity mutual fund
Debt mutual fund
Hybrid Mutual Fund

यदि आप इनके बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो आप यह पोस्ट पढ़ लीजिए यहां पर आपको mutual fund kya hota hai और इन तीनों म्यूचुअल फंड्स के बारे में पूरी जानकारी दी हुई है।

क्या म्यूचुअल फंड में पैसा डूब सकता है?

कई लोगों का यह भी सवाल रहता है कि क्या म्यूचल फंड में पैसा डूब सकता है तो इसका जवाब है हां म्यूचल फंड में पैसा डूब सकता है लेकिन यह होने का चांस बहुत ही कम होता है क्योंकि म्यूचल फंड में आपके पैसों को कई स्टॉक्स पर लगाया जाता है जिस कारण से यदि हर कंपनी डूब जाती है तभी आपका पैसा डूबेगा वरना नहीं डूबेगा।

म्यूच्यूअल फण्ड में कितना रिटर्न मिलता है?

म्यूचुअल फंड में कई तरीके से रिटर्न मिलता है जैसे कि किसी म्यूचल फंड में आपको ज्यादा रिटर्न मिलता है और किसी में कम मिलता है अगर आप जानना चाहते किस में आपको ज्यादा मिलने वाला है और किस में कब मिलने वाला है इसके साथ-साथ आपको कौन सी म्यूच्यूअल फंड में निवेश करना चाहिए यह सब जाने के लिए आप लोग इस पोस्ट को विजिट कर लीजिए आपको पूरी जानकारी मिल जाएगी।

Conclusion – Mutual Fund Kya Hai

आशा है आपको mutual fund kya hota hai, म्यूच्यूअल फंड के बारे में अच्छे तरीके से समझ में आ गया होगा अगर आप इसे और भी ज्यादा विस्तार से जानना चाहते हैं तो आप App को डाउनलोड करिए ऊपर वीडियो है आप लोगों को पूरा तरीका मिल जाएगा किस तरह से App में अकाउंट बनाएं और अगर आपको Blog पसंद आता है तो आप हमें Follow भी कर सकते हैं

Disclaimer: यह लेख केवल शैक्षिक उद्देश्य के लिए है मै आपको किसी भी प्रकार का निवेश करने की सलाह नहीं दे रहा हु अगर आप इस पोस्ट को पढ़ कर कोई भी निवेश करते है और आपको लाभ या हानि होता है तो इसके जिम्मेदार आप खुद होंगे

Tags:- mutual fund kya hota hai – म्यूच्यूअल फंड क्या होता है

Leave a Comment